Hindi Articles, Jokes, Chutkule, Shayari, Hindi MP3 tones

शेरो-शायरी -Shero Shayari

हम जुदा होंगे सोचा न था

जब भी तेरी यादों को आसपास पाता हूँ,
खुद को हद दर्जा तक उदास पाता हूँ,
तुझे तो मिल गई खुशियां जहां भर की,
मै अब भी दिल मे वही प्यास पाता हूँ.

अपने बेगाने हुए दुशमन जमाना हो गया,
ज़रा सी बात पर रुसवा फसाना हो गया,
मुझे सज़ा के तौर पर मिला काटों का बिस्तर,
उसका अंगन फूलो का अशियाना हो गया.

निभाया वादा हमने शिकवा न किया,
दर्द सहे मगर तुझे रुसवा न किया,
जल गया नशेमन मेरा, खाक अरमां हुए,
सब तुने किया मगर मैने चर्चा न किया.

निगाहों मे सुरत तेरी दिल मे याद,
प्यार मे हो गई मेरी जिंदगी बरबाद,
बहुत चाहा मगर किस्मत खराब थी,
दुआ मांगी, न हुआ दिल मेरा शाद.

मुरझा गए फूल खिलकर हसरतों के,
नाकाम हुए सपने हमारी मुहब्बतों के,
दुनियां ने छिन लिया मुझसे यार मेरा,
मुझे याद आ रहे हैं दिन कुरबतों के.

मैने एक पत्थर से दिल लगाया था,
एक बेवफा पर सब कुछ लुटाया था,
उसी ने पिठ में घोंप दिया खंजर,
दोस्त समझ जिसे गले लगाया था.

खून के आंसू रुलाता है वही मुझको,
कि जिसकी खातिर खूने दिल बहाया था,
ना मुझ से पूछो मेरे गम की दास्तां,
कि मैने हर कदम पर ज़ख्म खाया है.

ज़िन्दगी इश्क मे तबाह हो गई मेरी,
क्यो ऐसा मनहूस कदम मैने उठाया था,
तडप किसी सूरत दिल की मिटती नही,
उफ! क्यो उस बेवफा को अपना बनाया था.

तुझे कितनी शिद्दत से प्यार किया था,
रातों को जागकर तुम्हारा इन्तज़ार किया था,
लेकिन अब होश आ गया है 'प्यारे' को,
कि एक बेवफा से उम्रभर का इकरार किया था.

तुम्हारी चाहत मे क्या से क्या हो गया,
मैने चाहा था क्या और ये क्या हो गया,
तुमने यूं फेर ली मुझसे आंखें सनम बेवफा,
मानो मुझ से कोई बहुत बडा गुनाह हो गया.

रुस्वाई ज़िंदगी का मुकद्दर हो गयी,
मेरे दिल की देवी पत्थर हो गयी,
जिसे रात दिन पाने के ख्वाब देखे,
वो बेवफा किसी और की हमसफर हो गई.

नज़र जब मिली तो फसाना हो गया,
एक पल मे दिल तेरा दिवाना हो गया,
जब से वह आए हैं मेरी ज़िन्दगी मे,
अंदाज़ 'प्यार' का शायराना हो गया

Part Time Online Earnings

Part Time online Earnings From Home

Online Earnings ? Yes, Part Time online earnings is possible, very simple and easy. Here is online earning opportunities for house wife, part-time earners and beginners without any investment. Click on image to learn in details.

सफ़लता की ओर पहला कदम

अपने जीवन उदेश्य को जानना और उसे प्राप्त करने के लिए ढृढ आत्मविशवास रखना, यही सफलता की ओर पहला कदम है । यह अदम्य विचार कि मै अवश्य सफल होऊंगा और उस पर पूरा विश्‍वास ही सफलता पाने का मूल मंत्र है । याद रखिए ! विचार संसार की सबसे महान शक्ति है यही कारण है कि पूरा विवरण पढे

विल्क्षण बुद्धि के मालिक वीरेन्द्र मेहता
आप विश्‍वास करें या न करे परन्तु यह सच है कि विरेन्द्र मात्र १३ सैकिंड मे शब्दकोष का कोई भी शब्द बता सकते है। द्सवी कक्षा मे मात्र ३३ % अंक लेने वाले वीरेन्द्र मेहता ने शायद यह कभी सोचा भी न होगा कि एक दिन आएगा जब वह महज़ १३ सैकिंड के भीतर शब्दकोष के किसी भी शव्द का अर्थ याद कर बता पाएगें। पूरा विरण पढे